Category Archives: thought

Thought #74: Perue

Think about giving something –

The desire to get only is inappropriate,

Donor due to the feeling of kindness,

Become great from a simple are.

अनुवाद :

कुछ देने के वारे में सोचना चाहिए –

सिर्फ पाने की इच्छा अनननुचित है,

दाता दया की भावना से फलस्वरूप,

एक साधारण से महान बनते हैं।

© gayshir 2019