Category Archives: poem

Poem: 117: Delirious

At the time of the evening,

Some returned,

When the night happened,

Some bees –

Slept in the flower.

अनुवाद :

शाम के समय,

कुछ लौट गए,

जब रात हुई,

कुछ मधुमक्खियाँ –

फूल में सोया.

© 2019 artpens.net

Advertisements

Poem: 115: World Tsunami Awareness Day

images (2)1591883088350657719..jpg

Image : Google

Nature is huge,

The environment are the manufacture,

Which are maker –

Can erase.

Like artist,

When creating the picture,

Dislike line,

Erases –

To make beautiful work.

There are many avidence,

Many of the carelessness,

Are sad results.

If  by nature,

Globally –

Friendly behavior,

Then there is possible,

Rescue from natural disasters.

 

अनुवाद :

प्रकृति विशाल है,

वातावरण निर्माता हैं,

जो निर्माता हैं –

मिटा सकते हैं.

जैसे कलाकार,

चित्र बनाते समय,

नापसंद रेखाओं को,

मिटाता है –

सुन्दर कृति बनाने के लिए.

कई प्रमाण हैं,

असावधानियों के कई,

दुखद परिणाम हैं.

यदि प्रकृति से,

विश्व स्टार पर –

मित्रवत व्यव्हार हो,

तब संघव है –

प्राकृतिक आपदाओं से बचाव.

 

© 2019 artpens.net

Poem: 114: If

Out of town –

Crossing the road,

Not less than a disaster,

Busy on both sides,

Line of high speed vehicles –

And in such a situation,

If found!

Underpass way,

Then nice and simple –

Crossing the road.

अनुवाद :

शहर से बाहर –

सड़क पार करना,

आफ़त से कम नहीं,

दोनों तरफ़ व्यस्त,

तेज़ वाहनों की क़तार

और ऐसी स्थिति में,

अगर मिल गया!

अंडरपास रास्ता,

तब अच्छा और सरल –

सड़क पार करना.

© gayshir 2019

Poem: 112: Perfection

The waterfall flows –

To river,

The waterfall says,

Flow is necessary,

For the simple,

For improvement,

To search,

To thirst,

For satisfaction –

To perfection.

अनुवाद :

झरना बहता है –

नदी के लिए,

झरना कहता है,

बहना आवश्यक है,

साधारण के लिए,

महत्वपूर्ण के लिए,

खोज के लिए,

प्यास के लिए,

संतुष्टि के लिए –

पूर्णता के लिए.

© gayshir 2019

Poem: 111: Work And Heartstrings

Work is work,

Says there are religious,

Of fall or development,

In it is heartstrings.

Breath with life –

Every colour of the world,

Is purpose and ambition,

Until blood is hot.

Of birth sure death,

Age does not remain accumulated,

Remains left scar,

Hard is too soft.

In nectar and toxin,

The importance is mixed,

Many facts are component –

The cover is only skin.

अनुवाद :

कर्म तो मर्म है,

कहते हैं धर्म है,

ह्रास या विकास का,

इसी में मर्म है.

श्वांस जीवन के संग –

संसार का हरेक रंग,

उद्देश्य और उमंग है,

जब तक रूधिर गर्म है.

जन्म का मरण निश्चित,

आयु नहीं रहता संचित,

शेष रह जाता निशान,

कठोर भी नर्म है.

अमृत और विष में,

महत्व निश्चित अंश में,

अंतर्गत हैं अनेक तथ्य –

आवरण मात्र चर्म है.

© gayshir 2019

Poem: 110: My yesterday And Today (My 27&28 September)

p.d._02-21-09.44.05.JPEG

Due to monkeys,

With the nest –

Two childrens of squirrels,

Fell to the grounds,

In-spite of this –

Both were safe.

It started raining,

Everything changed a lot,

I brought them home,

Regained consciousness,

Voices heared –

Got happiness,

Hurt so much,

Search was in voice,

Restless and sorrow,

Both slept hungry and thirsty.

Taking both together in the morning –

Went to the same tree,

Noe the situation was normal,

With the help of two students,

Both were left on the tree,

Listening to the voices –

Parents came,

Everyone was very happy.

 

अनुवाद :

बंदरों की वजह से,

घोंसलों के साथ –

गिलहरियों के दो बच्चे,

ज़मीन पर गिर गए,

इसके बावज़ूद –

दोनों सुरक्षित थे.

बारिश होने लगी,

सबकुछ काफ़ी बदला हुआ,

मैं उन्हें घर ले आया,

होश लौट आया,

आवाज़ें सुनाई दी –

ख़ुशी मिली,

बहुत दुःख हुआ,

आवाज़ में तलाश थी,

बेचैनी और दुःख,

दोनों भूख-प्यासे सो गए.

सुबह दोनों को साथ लेकर –

उसी पेड़ के पास गया,

अब स्थिति सामान्य थी,

दो विद्यार्थियों की सहाय से,

दोनों को पेड़ पर छोड़ दिया गया,

सुनकर आवाज़ों को –

माता-पिता आए,

सभी बहुत खुश हुए.

 

© gayshir 2019

 

 

 

 

Poem: 109:Watch “Poem: Knowledge” on YouTube

Images : Google

You know,

I know also,

What’s need?

For grow.

Legs and paths,

Slow and fast,

All necessary –

For glow.

In dark,

Silent bark,

Of unknown –

Taut brow.

अनुवाद :

तुम्हें पता है,

मुझे भी पता है,

क्या ज़रुरत है?

बढ़ने की.

पैर और रास्ते,

धीमा और तेज़,

सभी आवश्यक –

चमक के लिए.

अंधेरे में,

ख़ामोश भौंकना,

अज्ञात की –

तनी हुई भौंह.

© gayshir 2019

Poem: 108: Malice And Love

Born of two,

Joyous atmosphere.

On one die,

Very happy,

On the other’s death –

Very weeds,

For goodness –

All are free,

For evil,

Global stopping.

अनुवाद :

दो का जन्म,

ख़ुशी का माहौल.

एक के मरने पर,

बहुत ख़ुशी,

दूसरे के मरने पर –

बहुत मातम,

अच्छाई के लिए –

सभी स्वतंत्र हैं,

बुराई के लिए,

वैश्विक रोक है.

© gayshir 2019

Poem: 107: Speed And Story

Design _02-04-04.16.59.JPEG

The river flows –

Keeps pace,

Now any proud.

She goes away,

Dries up,

Nevertheless –

The mark remains,

The story stays.

अनुवाद :

नदी बहती है –

रफ़्तार बनाए रखती है,

कोई अभिमान नहीं.

वह चली जाती है,

सूख जाती है,

फिर भी –

चिन्ह रह जाता है,

कहानी रहती है.

 

© gayshir 2019

 

 

 

Poem: 106: Talk

Friend do something –

There is very blackness,

Heart should be glad,

Do some good management –

You will also get happiness.

अनुवाद :

कुछ करो यार –

बहुत ख़ालीपन है,

दिल को ख़ुशी चाहिए,

कुछ अच्छा प्रबंध करो –

तुम्हें भी ख़ुशी मिलेगी.

© gayshir 2019

Poem: 105: For Love

p.d._02-21-09.44.05.JPEG

Flowers bloom,

Happiness spreads,

In the environment –

The scent dissolves.

For love –

The world goes on.

 

अनुवाद :

फूल खिलते हैं,

ख़ुशी फैलती है,

वातावरण में –

ख़ुशबू घुल जाती है.

प्यार के लिए –

दुनियाँ चलती है.

 

© gayshir 2019

 

Poem: 104: Habit

p.d._02-21-09.44.05.JPEG

Who ones ♥ loves,

But in really –

Can not leave,

To your ♥ love,

For love ♥ —

Beautiful habit.

 

अनुवाद :

जो प्यार ♥ करते हैं,

लेकिन सचमुच में,

नहीं छोड़ सकते हैं,

अपने ♥ प्यार को,

प्यार ♥ के लिए —

सुन्दर आदत.

 

© gayshir 2019

 

 

 

Poem: 103: Indelible Tradition

For me,

For you,

For us,

All the world –

For love.

For knowledge,

For the campaign,

For the defeat,

For the vicctory.

For the set,

For the rise,

Many indelible –

For the tradition..

अनुवाद :

मेरे लिए,

तुम्हारे लिए,

हमारे लिए,

सारी दुनियां –

प्रेम के लिए।

ज्ञान के लिए,

अभियान के लिए,

पराजय के लिए,

विजय के लिए।

अस्त के लिए,

उदय के लिए,

कई अमिट –

परंपरा के लिए…

© gayshir 2019