artpens

Day: 5 August 2019

SENRYU #135: Victim

wp-image9184324444594135293.jpeg

Sky is laughing ~

Human misbehavior ~

Weaver in the own net —

अनुवाद :

आकाश हंस रहा है ~

मानव का अनुचित व्यव्हार ~

ख़ुद के जाल में बुनकर —

 

© gayshir 2019