SENRYU #135: Victim

Sky is laughing ~ Human misbehavior ~ Weaver in the own net — अनुवाद : आकाश हंस रहा है ~ मानव का अनुचित व्यव्हार ~ ख़ुद के जाल में बुनकर —   © gayshir 2019

Advertisements
event_note
close

Sky is laughing ~ Human misbehavior ~ Weaver in the own net — अनुवाद : आकाश हंस रहा है ~ मानव का अनुचित व्यव्हार ~ ख़ुद के जाल में बुनकर —   © gayshir 2019

Advertisements
folder_open life, senryu
Read more